महिलाओं से शादी और अधिक से अधिक बच्चे पैदा करने की चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने की अपील, जानिए किस बात ने बढ़ाई टेंशन

ब्रह्मवाक्य, एजेंसी। चीन इन दिनों अपने यहां लगातार गिरती जन्म दर से परेशान है। हालात एअसे हो गए हैं कि चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Chinese President Xi Jinping) को देश की महिलाओं से शादी और अधिक से अधिक बच्चे पैदा करने की अपील करनी पड़ रही है। जिनपिंग ने कहा कि सुखी परिवार के लिए महिलाओं की भूमिका महत्वपूर्ण है। चीनी सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने राष्ट्रपति जिनपिंग के हवाले से कहा है कि राष्ट्र की प्रगति में महिलाओं को भी आगे आना चाहिए। उन्होंने महिलाओं से परिवार बढ़ाने के लिए शादी और बच्चे पैदा करने की अपील की है।

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Chinese President Xi Jinping) ने कहा कि चीन कि महिलाओं की भूमिका उनके स्वयं के विकास के साथ ही “सामाजिक सद्भाव, पारिवारिक सद्भाव, राष्ट्रीय विकास और राष्ट्र की प्रगति” में भी महत्वपूर्ण है। इसलिए युवाओं में विवाह की एक नई संस्कृति को विकसित करना जरूरी है। राष्ट्रपति ने कहा कि विवाह कर बच्चे पैदा करना और परिवार की वृद्धि के बारे में युवाओं को अपना दृष्टिकोण मजबूत होना चाहिए।

बतादें कि चीनी विशेषज्ञों के मुताबिक बच्चों की देखभाल की लागत, नौकरी का न होना, लैंगिक भेदभाव और लोगों में शादी करने की इच्छा का अभाव सहित अन्य कई वजहों से कई युवा चीनी महिलाएं परिवार बढ़ाने से पीछे हट रही हैं। जिससे यहां की जनसंख्या में गिरावट दर्ज की जा रही है।

जानकारी के मुताबि चीन के राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो ने जनवरी में छह दशकों में पहली बार जनसंख्या में गिरावट की सूचना दी। जिसमें कहा गया कि देश की जनसंख्या तेजी से बूढ़ी हो रही है। बताया गया है कि चीन में बच्चों के जन्म दर में पिछले साल 10% गिरकर रिकॉर्ड के न्यूनतम स्तर पर पहुंच गई। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (National Health Commission) द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, चीन में 2022 में केवल 9.56 मिलियन जन्म हुए, जो कि 1949 के बाद से यह सबसे कम आंकड़ा है।

जनसांख्यिकी विशेषज्ञों के मुताबिक चीनी जनसंख्या जल्द ही बूढ़ी हो जाएगी, जिससे राजस्व घटने और सरकारी कर्ज में वृद्धि से अर्थव्यवस्था की रफ्तार धीमी पड़ने का खतरा है। दरअसल इसके पीछे की वजह चीन में 1980 से 2015 के बीच लागू रही एक-बाल नीति है। इस समस्या को दूर करने के लिए चीनी सरकार ने लोगों को बच्चों की देखभाल के साथ-साथ वित्तीय प्रोत्साहन को भी बढ़ाने के उपाय शुरू कर दिए हैं।

 

BM Dwivedi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button