इजरायल से वापस आने के इच्छुक भारतीयों की वापसी के लिए शुरू किया गया ‘ऑपरेशन अजय’

ब्रह्मवाक्य, डेस्क। इजरायल-हमास के बीच जारी जंग लगातार बढ़ती जा रही है। जिससे यहां रह रहे नागरिकों के जीवन पर संकट पैदा हो चुका है। इस युद्ध में अब तक दोनों ओर से करीब 2,300 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। तो वहीँ हजारों की संख्या में लोग घायल हो चुके हैं। ऐसे में भारत ने इजरायल में रह रहे भारतीयों की वापसी के लिए ‘ऑपरेशन अजय’ शुरू किया है। जिसके तहत इजरायल से वापस आने के इच्छुक भारतीयों को भारत लाया जा रहा है। भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर (India’s Foreign Minister S. Jaishankar) के मुताबिक ‘ऑपरेशन अजय’ के तहत विशेष चार्टर फ्लाइट्स का प्रबंध किया गया है।

विदेश मंत्री जयशंकर (Foreign Minister S. Jaishankar) ने कहा कि भारत की सरकार विदेश में मौजूद भारतीय नागरिकों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। इजरायल में भारतीय दूतावास द्वारा अपने नागरिकों की सहायता के लिए 24 घंटे का हेल्पलाइन नंबर और ई-मेल आईडी जारी किया गया है। इस बीच इजरायल में रह रहे भारतीय प्रवासियों ने वहां देश की सेना पर भरोसा जताते हुए कहा है कि वे शांति से इजरायल में ही रहना चाहते हैं। वहीं, इजरायल में भारत के राजदूत संजीव सिंगला (Sanjeev Singla) ने भारतीय प्रवासियों से कहा है कि दूतावास उनकी सुरक्षा के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहा है।

भारतीय दूतावास की मने तो इजरायल में इस समय भारतीय मूल के करीब 85,000 यहूदी समुदाय से लोग हैं। दरअसल भारतीयों के इजरायल में बसने का सिलसिला 50 और 60 के दशक बढ़ा था। इजरायल में बसने वालों में सबसे अधिक महाराष्ट्र के लोग हैं। इसके बाद कुछ संख्या केरल के लोग भी हैं। कोलकाता, मिजोरम और मणिपुर से कुछ भारतीय यहूदी भी इजरायल में हैं। पुरानी पीढ़ी के लोगों का अभी भी भारत से गहरा रिश्ता है, जबकि नई पीढ़ी तेजी से इजरायली समाज में घुलमिल चुकी है।

BM Dwivedi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button