63 करोड़ की लागत से बन रहे है चौराघाट का जनसंपर्क मंत्री ने किया भूमिपूजन, हनुमना से चाकघाट के लिए होगा सीधा रास्ता

ब्रह्मवाक्य/रीवा। जनसंपर्क तथा पीएचई मंत्री राजेंद्र शुक्ल ने बहुप्रतीक्षित चौरा घाट निर्माण का भूमि पूजन किया। इसकी लागत 63 करोड रुपए है। इसका निर्माण लोक निर्माण विभाग द्वारा किया जा रहा है। इस अवसर पर विशाल जन समुदाय को संबोधित करते हुए मंत्री शुक्ल ने कहा कि चौराघाट बन जाने से हनुमना और चाकघाट का सीधा मार्ग खुल जाएगा। इससे इस पूरे क्षेत्र को मुख्य धारा में शामिल होकर आर्थिक और सामाजिक विकास का अवसर मिलेगा। चौरा घाट निर्माण के लिए विधायक त्योंथर ने लगातार प्रयास किया है जिस कारण आज क्षेत्र की जनता को यह सौगात मिली है।

इस कार्यक्रम के अवसर पर मंत्री शुक्ल ने कहा कि क्षेत्र के निवासी चाकघाट से सोनौरी रोड और इलाहाबाद से रीवा रोड की दुर्दशा भूले नहीं होंगे। उस समय की रोड तब की सरकारों के कुशासन की प्रतीक थी। आज फोरलेन हाईवे और सीसी रोड आवागमन को सुगम करने के साथ हमारी सरकार के सुशासन की गाथा भी कह रही हैं। पूरे प्रदेश में हर क्षेत्र में बड़े-बड़े कार्य किये जा रहे हैं। रीवा जिले में 2000 गांवों को नल से शुद्ध मीठा पानी घर-घर पहुंचने के लिए 2200 करोड रुपए की नल जल योजना मंजूर की गई है। देश के यशस्वी प्रधानमंत्री मध्य प्रदेश को नल जल योजनाओं के लिए 70000 करोड रुपए मंजूर किए हैं।

समारोह में सांसद जनार्दन मिश्र ने कहा कि 15 महीने दूसरे दल की सरकार इसके बाद 2 साल तक करोना का प्रकोप रहा। काम करने के लिए केवल डेढ़ साल का समय मिला। इतने कम समय में भी त्योंथर क्षेत्र में विकास के अभूतपुर्व काम हुए हैं। चौरा घाट का निर्माण क्षेत्र के लिए बहुत बड़ी सौगात है। इससे आर्थिक विकास होने के साथ सामाजिक क्षेत्र में भी विकास होगा। समारोह में अतिथियों का स्वागत करते हुए विधायक त्योंथर श्यामलाल द्विवेदी ने कहा कि त्योंथर क्षेत्र को मुख्यमंत्री जी ने सड़क, पुल, सिंचाई परियोजनाओं के रूप में अनेक उपहार दिए हैं। त्योंथर माइक्रो सिंचाई परियोजना का कार्य तेजी से जारी है। चौराघाट का काम आज से शुरू हो गया है। चौरा में सब स्टेशन का निर्माण लगभग एक महीने में पूरा हो जाएगा। इसके अलावा पूरे क्षेत्र में विकास के कार्य कराए गए हैं। चौराघाट बन जाने से पूरा क्षेत्र हनुमना और मऊगंज से ही नहीं सीधी, सिंगरौली और झारखंड से सीधे जुड़ जाएगा।

Sameeksha mishra

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button