Bharat Jodo Nyay Yatra: राहुल गाँधी का बीजेपी पर हमला कहा, बीजेपी के लोग जो नफ़रत फैला रहे हैं उसका मकसद क्या है?

ब्रह्मवाक्य/राजनीति। राहुल गांधी द्वारा फिर से भारत जोड़ो न्याय यात्रा अभियान चालू कर दिया गया है। राहुल गांधी जी का कहना है भारत एक संपूर्ण स्वतंत्र देश है भारत में कई विविधता होने के बावजूद यहां एकता है भारत एक मोहब्बत का देश है एकता और अखंडता की मालापिरोए हुए हैं राहुल गांधी का यह भी कहना है भारत के प्रधानमंत्री एवं उनके कार्यकर्ता भाजपा पार्टी के लोगों ने नफरत भेदभाव पैदा कर रही है।

भारत में दलित वर्ग के लोग- हमारे देश मे दलित वर्ग एवं पिछड़ा वर्ग के लोग भी हैं राहुल गांधी पिछड़ा एवं अनुसूचित जनजाति के लिए मनी फेस टू बना रहे हैं। भारत जोड़ो नया यात्रा का पहले चरण सरगुजा जिले के अंबिकापुर में पहुंची कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन एवं कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी वहां मौजूद रहे वहां के स्थानीय लोगों ने अपनी समस्याबताई वह वहां के पेड़ काटने के विरोध में थेइस समस्या पर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन अपनी सहमति जताई और इसका विरोध भी किया।

बीजेपी सरकार लोगों के दिलों में नफरत पैदा कर रही है-
कांग्रेस सरकार कहना है बीजेपी सरकार के आने के पहले पूरे देश में लोगों के प्रति प्रेम मोहब्बत सहायता करने का उल्लास देखा जाता था लोग एक दूसरे के प्रति हम दर्दी जताते थे। भारत के नागरिक एक दूसरे के त्यौहार में खुश रहते थे बीजेपी सरकार ने धर्म के नाम पर लोगों में इतनी नफरत पैदा कर ली है कि आज भारत के अंदर कई भारत बनने के संदेह पैदा हो रहे हैं धर्म के नाम पर उन्हें अपनी सरकार और सत्ता चलानी है कांग्रेस सरकार ने भारत के रोजगार को लेकर बड़े मुद्दे उठाएं उन्होंने कहा केंद्र सरकार रोजगारी के बारे में किसी भी प्रकार की बात नहीं करना चाहते जो रोजगार के लिए आवाज उठाएंगे उसे दबाना चाहते हैं।

भारत मे बेरोजगारी का स्तर बढ़ता जा रहा है आज 40 साल से भारत में बेरोजगारी है यहा चीन का सामान बेचा जा रहा है जो छोटे-छोटे उद्योगपति थे उनका रोजगार मोदी जी ने अपनी नोटबंदी जीएसटी के तहत बर्बाद कर दिया जो गांव से अपना मजदूरी कर रहे थे थोड़ा बहुत रोजगार लेकर केंद्र सरकार ने जीएसटी और महंगाई का भट्टा बैठा दिया किसानों को उनकी जरूरत का समान नहीं मिल रहा उनकी समस्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है कांग्रेस सरकार का कहना है केंद्र सरकार सभी चीज में खुद को प्रेजेंट करती है वह अपनी छवि चमकाने में लगी है किसान के आंदोलन उनकी समस्या से कोई लेना-देना नहीं है। दिल्ली के सरहद में किसान अपनी मांग कर रहे हैं केंद्र सरकार उसे अनसुना कर रही है।

Sameeksha mishra

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button